गुफ्तगू में राग देश

Irfan

आज़ादी के बाद अगर पहली बार कोई पब्लिक सर्विस ब्रॉडकास्टर अपने दम पर एक मुकम्मल फीचर फिल्म प्रोड्यूस कर रहा है तो वह है राज्य सभा टीवी।

आज़ादी से पहले ब्रिटिश सरकार ने आज़ाद हिन्द फ़ौज के तीन फ़ौजी अफसरों पर लाल क़िले में जो राजद्रोह का मुक़दमा चलाया था, यह फिल्म उसी विषय और उन परिस्थितियों पर केंद्रित है।

Tigmanshu-and-Sappal

राज्य सभा टीवी के शो गुफ्तगू में राज्यसभा टीवी के CEO और राग देश फिल्म के प्रोड्यूसर गुरदीप सिंह सप्पल ने कहा -” राज्य सभा टीवी बनने के समय ही हमारी कंटेंट एडवाइज़री कमेटी में दो बातों पर सहमति हुई।

पहली कि किसी भी देश मे इतिहास, कला, साहित्य को प्रमोट करना सरकार और सरकारी संस्थाओं का काम है और दूसरी कि इस देश में पॉपुलर कल्चर का सबसे बड़ा माध्यम  फिल्म है। और यह तय हुआ कि  राज्य सभा टीवी दोनों को जोड़ दे। आप कंटेम्पररी हिस्ट्री, कला और साहित्य के विषय लीजिये और फिल्म से उसको जोड़िये।

फिर एक बार जब इसा पर राजनीतिक सहमति बन गयी तो उसको लागू करने का काम हम लोगों का था जो काम हम लोगों ने किया और राग देश फिल्म इसी का नतीजा है।

उस समय जो लाल किले में हुआ आईएनए का ट्रायल था उसने सभी धाराओं की पार्टियों को एक कर दिया था, सभी धर्मों के लोगों को एक कर दिया था और ट्रायल के लाल किले में होने का प्रतीकात्मक महत्त्व बहुत था, था जबकि उस पर काम नहीं हुआ था। इस फिल्म को देखकर लोग यह ज़रूर कहेंगे कि हाँ ये चीज हमें नहीं मालूम थी जो फिल्म ने हमें बताई है और रोचक ढंग से बताई है।”

गुफ्तगू के इस ख़ास एपिसोड में फिल्म के निर्देशक और राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार विजेता फिल्मकार तिग्मांशु धूलिया ने कहा कि इतिहास के छात्र होने के बावजूद वो आईेएनए की इतनी अहम् भूमिका के बारे उतनी अच्छी तरह नहीं जानते थे जितना इस फिल्म को बनाने के क्रम में जान पाए। उन्होंने कहा “आज़ादी हमें कोई खैरात में नहीं मिली है, हमने खून देकर छीनी है। बहुत खून बहा है।

आज़ाद हिन्द फ़ौज के पच्चीस से तीस हज़ार सिपाही लड़ते हुए मरे हैं। तो इसके बारे में बिलकुल नहीं पता था मुझे, तो थोड़ा सा वाइज़ हो गया मैं।”

इस फिल्म से पहले राज्य सभा टीवी संविधान बनने की बारीकियों पर दस एपिसोड का एक टीवी धारावाहिक प्रस्तुत कर चुका है। संविधान के निर्देशक थे श्याम बेनेगल। आईेएनए ट्रायल्स और आज़ाद हिन्द फ़ौज की ये कहानी टीवी पर भी छः एपिसोड में दिखाई जाएगी लेकिन उससे पहले यह सिनेमाघरों में रिलीज़ होने के लिए तैयार है। 28 जुलाई को इसे देश के सभी प्रमुख सिनेमाघरों में देखा जा सकेगा।

(इस पूरी बातचीत को आप यहां  देख सकते हैं)