शीला दीक्षित के इस्तीफ़े को लेकर अटकलें

SansadTV Bureau

sheila_rajnathकेरल की राज्यपाल शीला दीक्षित ने सोमवार को गृहमंत्री राजनाथ सिंह से मुलाक़ात की. शीला की मुलाकात को उनके इस्तीफे से जोड़कर देखा जा रहा है.

शीला दीक्षित सोमवार शाम को राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी से भी मुलाक़ात करेंगी. ऐसे अटकलें हैं कि शीला दीक्षित राष्ट्रपति के सामने अपने इस्तीफे की पेशकश कर सकती हैं. शीला दीक्षित को आम चुनावों से पहले केरल का राज्यपाल बनाया गया था.

दिल्ली में शीला दीक्षित की मुलाकातों का दौर जारी है. प्राप्त जानकारी के मुताबिक शीला दीक्षित ने गृहमंत्री राजनाथ सिंह के साथ 15 मिनट बातचीत की,  हालांकि  इस मुलाकात को लेकर किसी भी तरह की आधिकारिक जानकारी अभी तक नहीं मिली है.

राजनाथ सिंह से मुलाक़ात के बाद पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि इस्तीफ़े को लेकर जो भी ख़बरे है वह महज़ अफ़वाह हैं. ऐसी खबरें हैं कि उन्होंने कथित तौर पर राजग सरकार की ओर से इस्तीफ़े के संकेत मिलने पर अपना पद छोड़ने से इंकार कर दिया था.

दूसरी ओर दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित को केरल से हटाकर पूर्वोत्तर के किसी राज्य का राज्यपाल भी बनाया जा सकता है.

एनडीए सरकार के सत्ता में आने के बाद से ही राज्यपालों की बर्खास्तगी और स्थानांतरण का सिलसिला जारी है. सबसे पहले मिजोरम की राज्यपाल कमला बेनिवाल को पद से हटाया गया. कमला बेनिवाल मिजोरम से पहले गुजरात की राज्यपाल थी.

रविवार को ही महाराष्ट्र के राज्यपाल के शंकरनारायणन ने महाराष्ट्र से मिजोरम स्थानांतरित किए जाने के बाद अपने पद से इस्तीफ़ा दे दिया, उनका कार्यकाल 2017 तक था.

शंकरनारायणन को भी केंद्रीय गृह सचिव की ओर से इस्तीफ़ा देने के संकेत दिए गए थे. पिछले माह ही पांडेचेरी के उप-राज्यपाल वीरेंद्र कटारिया को भी बर्खास्त किया गया था.