ग़ज़ा: स्कूल बना निशाना, अबतक 1323 की मौत

RSTV Bureau

gaza_strikeग़ज़ा में इज़राइल और हमास के बीच भीषण संघर्ष में बृहस्पतिवार को तकरीबन 92 फ़लस्तीनी नागरिकों की मौत हो गई. इनमें से 20 लोग संयुक्त राष्ट्र द्वारा संचालित एक स्कूल में मारे गए. अब तक की इस लड़ाई में मरने वालों का संख्या 1,323 तक पहुंच गई है.

इज़राइल रातभर आसमान, ज़मीन और समुद्र तीनों जगहों से ग़ज़ा पर गोलाबारी करता रहा.

दक्षिणी शहर खान यूनिस में एक भीड़भाड़ वाले इलाके में इज़राइल के ताजा हवाई हमले में तक़रीबन 17 लोग मारे गए और 200 से अधिक घायल हो गए.

इज़राइल द्वारा अब तक का सबसे भीषण हमला बृहस्पतिवार की सुबह हुआ जब दो गोले संयुक्त राष्ट्र द्वारा संचालित एक स्कूल में आकर गिरे.

इस स्कूल में इज़राइल की चेतावनी के बाद अपने घर छोड़कर भागे बहुत से फ़लस्तीनियों ने शरण ले रखी थी. इस हादसे में कम से कम 20 लोग मारे गए है और तकरीबन 90 लोग घायल हुए है.

स्थानीय निवासी अबू अली ने बताया, जबालिया में अबू हुसैन स्कूल में उस जगह पर गोला गिरा जहां हाल में विस्थापित सैकड़ों फ़लस्तीनियों ने पनाह ले रखी थी. ग़ज़ा के एक अधिकारी को मुताबिक इज़राइली हमलों में तकरीबन 92 फ़लस्तीनी मारे गए और 260 से ज़्यादा घायल हुए है.

उन्होंने बताया कि 8 जुलाई को इज़राइल और हमास के बीच संघर्ष भड़कने से ग़ज़ा में अब तक कुल 1,323 लोगों की मौत हो चुकी है और 7,350 से ज़्यादा लोग घायल हुए हैं.