कप्तान धोनी ने ली हार की ज़िम्मेदारी

RSTV Bureau

dhoni_cricketइंग्लैंड के हाथों रोमांचक ट्वेंटी-20 मुकाबले में मिली हार के लिए कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने खुद को जिम्मेदार ठहराया है. धोनी के कहा कि आखिरी ओवर में छह गेदों में 17 रन बनाना एक मुश्किल काम था.

कप्तान धोनी ने कहा कि आखिरी वक्त़ में आपके ऊपर क़ाफी दबाव रहता है. ऐसे में अंबाती रायडू जो नए-नए पिच पर उतरे थे, उनकी बजाय मैंने खुद ही खेल ख़त्म करने का मन बनाया, लेकिन मैं ऐसा कर पाने में नाकाम रहा.

भारत और इंग्लैंड के रविवार को हुए ट्वेटीं-20 मुकाबले में इंग्लैंड ने भारत को तीन रनों से मात दी. एजबेस्टन मैदान पर खेले गए रोमांचक मुकाबले में भारत को आखिरी ओवर में 17 रनों की दरकार थी, लेकिन भारत को इस करीबी मैच में हार का सामना करना पड़ा.

रोमांचक मुकाबले के आखिरी ओवर में भारत को जीत के लिए 17 रनों की जरूरत थी. क्रीज पर कप्तान धोनी और अंबाती रायडू बल्लेबाजी कर रहे थे. धोनी ने ओवर की पहली गेंद पर चौका जड़कर आखिरी व़क्त तक मैच में रोमांच बनाए रखा, लेकिन धोनी मैच को भारत की झोली में डालने में असफल रहे.

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी इंग्लैंड की टीम ने भारत के सामने 181 रनों का लक्ष्य रखा. इंग्लैंड की ओर से कप्तान इयोन मोर्गन ने तूफ़ानी पारी खेलते हुए 31 गेंदों में तीन चौके और सात छक्कों की मदद से 71 रन बनाए. कप्तान के अलावा एलेक्स हेल्स के कीमती 40 रनों की बदौलत इंग्लैंड, भारत के सामने एक चुनौतीपूर्ण लक्ष्य रखने में कामयाब रहा.

भारत की ओर से मोहम्मद शमी ने किफ़ायती गेंदबाजी की. शमी ने निर्धारित चार ओवरों में 38 रन देकर तीन विकेट झटके. जबकि मोहित शर्मा, कर्ण शर्मा और रविंद्र जडेजा को एक-एक विकेट हासिल हुआ. लक्ष्य का पीछा करते हुए भारतीय टीम निर्धारित 20 ओवरों में पांच विकेट पर 177 रन ही बना सकी.

भारत की ओर से विराट कोहली ने सबसे ज़्यादा 66 रन बनाए. जबकि शिखर धवन ने 33, सुरेश रैना ने 25 और कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने नाबाद 27 रनों की पारी खेली.

टेस्ट सीरीज में 1-3 से हार का सामना करने के बाद भारतीय टीम को एक दिवसीय श्रंखला में 3-1 से जीत मिली थी. दोनों टीमों के बीच एकमात्र ट्वेंटी-20 मुकाबले की सीरीज हारने के साथ ही भारत का इंग्लैंड दौरा समाप्त हो चुका है.