नवाज शरीफ से मिले नरेंद्र मोदी, जनवरी में मिलेंगे विदेश सचिव

RSTV Bureau

Modi Nawaz 03प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रूस और अफगानिस्तान के दौरे से लौटते वक्त शुक्रवार शाम अचानक पाकिस्तान का दौरा कर सबको चौंका दिया। काबुल में संसद के नए भवन के उद्घाटन के बाद प्रधानमंत्री को सीधे देश लौटना था, लेकिन अचानक दोपहर में प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया कि वो लाहौर जा रहे हैं। शाम करीब चार बजकर पचास मिनट पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का विमान लाहौर हवाई अड्डे पर उतरा जहां उनकी अगवानी के लिए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ मौजूद थे। अलामा इकबाल अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर एक दूसरे से गले मिलने के बाद दोनों नेता एक हेलीकॉप्टर में बैठकर यहां से करीब 20 किलोमीटर दूर नवाज शरीफ के घर के लिए रवाना हो गए।

लाहौर के जट्टी उमरा इलाके में नवाज शरीफ के घर पर नरेंद्र मोदी के स्वागत की जोरदार तैयारी की गई थी। नवाज शरीफ के घर रायविंड पैलेस में प्रधानमंत्री का गर्मजोशी से स्वागत किया गया। प्रधानमंत्री के साथ राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोवाल और विदेश सचिव एस जयशंकर के अलावा दूसरे अधिकारी भी मौजूद थे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नवाज शरीफ के जन्मदिन के मौके पर उन्हें बधाई दी और उनके घरवालों से भी मुलाकात की। नरेंद्र मोदी नवाज शरीफ के घर पर करीब सवा घंटे तक रहे जिसके बाद दोनों नेता एक ही हेलीकॉप्टर में बैठकर लाहौर एयरपोर्ट आए।

Modi Nawaz 02प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अचानक पाकिस्तान दौरे पर राजनीतिक दलों ने मिलीजुली प्रतिक्रिया दी। कांग्रेस, शिवसेना और जेडीयू ने जहां इस फैसले पर हैरत जताई वहीं सीपीआई ने इस पहल का स्वागत किया। कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इस कदम का विरोध करते हुए कहा कि ये दौरा देशहित में नहीं है और इससे पहले किसी प्रधानमंत्री ने ऐसा नहीं किया। कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने कहा कि विदेश नीति में गंभीरता होनी चाहिए। जबकि बीजेपी ने प्रधानमंत्री के इस दौरे को दोनों देशों के रिश्तों में नया अध्याय बताया है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता के मुताबिक इस दौरे और बातचीत का मकसद दोनों देशों के संबंधों में सकारात्मक उत्साह बढ़ाना था.

नरेंद्र मोदी-नवाज शरीफ की इस मुलाकात पर पाकिस्तान सरकार की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि ये कार्यक्रम पहले से तय नहीं था। पाकिस्तान के विदेश सचिव एजाज अहमद चौधरी के मुताबिक दोनों देश बातचीत जारी रखने पर सहमत हैं और इस सिलसिले में विदेश सचिवों की जनवरी में इस्लामाबाद में मुलाकात होगी।

लाहौर से प्रधानमंत्री शुक्रवार रात करीब साढ़े आठ बजे दिल्ली लौट आए। नरेंद्र मोदी और नवाज शरीफ की इससे पहले 30 नवंबर को पेरिस में जलवायु परिवर्तन सम्मलेन के दौरान मुलाकात हुई थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ये पहला पाकिस्तान दौरा था। इससे पहले 2004 में तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी पाकिस्तान दौरे पर गए थे।