परिस्थतियों ने मुझे राजनीति में भेजा: दुष्यंत

RSTV Bureau

dushyant_chautala365हरियाणा से चौटाला परिवार के सबसे युवा चेहरे और इंडियन नेशनल लोकदल के टिकट पर चुनकर आए देश के सबसे युवा सांसद, दुष्यंत चौटाला का मानना है कि राजनीति में उन्हीं लोगों को आना चाहिए जो सेवा का भाव रखते हैं. उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी आगामी विधानसभा चुनाव में राज्य की सभी 90 सीटों पर चुनाव लड़ेगी. चुनाव पूर्व गठबंधन की स्थिति से उन्होंने इनकार करते हुए कहा कि चुनाव के बाद की बात अभी तय नहीं की जा सकती. राज्यसभा टीवी ऑनलाइन के लिए दुष्यंत ने बातचीत की विमल चौहान से.

प्रस्तुत हैं बातचीत के कुछ अंश-

राजनीति में आने का फैसला कब लिया?

मैं राजनीति में तो शुरुआत से आना चाहता था लेकिन इतनी जल्दी आने का नहीं सोचा था. परिस्थितियों के कारण इतनी जल्दी आना पड़ा.

क्या आपको एक विशेष राजनीतिक परिवार से आने का फायदा मिला?

जी हां, बिल्कुल मिला. जो काम ताऊ देवीलाल जी ने किये, दादा जी ने किए तो इस कारण लोगों लगा कि मैं भी उनके लिए काम करूंगा.

क्या आपको नहीं लगता हरियाणा की राजनीति पर परिवारवाद ज्यादा हावी है?

बिल्कुल नहीं, आज का मतदाता पढ़ा लिखा है, जागरूक है. वह अपना भविष्य देखता है वह यह नहीं देखता कौन किस परिवार से आता है. हमें लोगों के बीच रहकर काम करना चाहिए. वोटर जानता है कि मैं किस परिवार से आता हूं. अगर वोटर चाहेगा कि मुझे परिवारवाद खत्म करना है तो वह मुझे वोट नहीं देगा लेकिन वोटर देखता है मेरे परिवार ने हरियाणा प्रदेश के लिए बहुत कुर्बानियां दीं.

हरियाणा में महिलाओं के प्रति अपराध के ख़िलाफ़ आपने और आपकी पार्टी ने क्या किया?

हरियाणा में दर्ज होने वाले कुल मामलों में से 63% महिलाओं के ख़िलाफ़ दर्ज होते हैं. चौधरी ओमप्रकाश चौटाला ने तो विधानसभा में महिलाओं को 30% आरक्षण देने की बात की है और अगर हम सत्ता में आए तो हम ज़रूर करेंगे. हमने महिलाओं की आवाज़ सदैव उठाई है.

आपने प्रदेश की कानून व्यवस्था और भ्रष्टाचार के लिए क्या किया?

हमने सिग्नेचर कम्पैन चलाया, वाड्रा लैंड डील का विरोध किया, एचसीएस घोटाले का पर्दाफाश किया, राज्यपाल से मिले, राष्ट्रपति से मिलकर ज्ञापन देंगे. आरटीई से जवाब मांगा लेकिन मिला नहीं. ये हमारा हाल है तो आम जनता का क्या होगा.

लेकिन राज्य सरकार ने तो हरियाणा के विकास के कई दावे किए हैं…

मुख्यमंत्री हुड्डा ने हरियाणा के विकास के सिर्फ झूठे दावे किए हैं. पूरे हरियाणा में सिर्फ एक स्टेडियम का निर्माण किया है जबकि दावे 164 स्टेडियम के किए गए. सिर्फ झूठी पब्लिसिटी के लिए करोड़ों रूपये बर्बाद किए गए. अगर हरियाणा प्रदेश किसी चीज़ में नंबर वन है तो अपने जमाइयों को ज़मीन देने में हैं.

क्या आप खाप की कार्यशैली को ठीक मानते हैं?

हां, मैं खाप को पूरी तरह से ठीक मानता हूं. खाप ने हमेशा समाज के लिए काम किया है. विडंबना यह है कि मीडिया खाप द्वारा किए गए अच्छे कार्यों को नहीं दिखाता है.

चौधरी ओमप्रकाश चौटाला खुद जेल में हैं. क्या उनके जेल जाने के बाद इनेलो कमजोर हुई है?

नहीं, बिल्कुल नहीं. पार्टी के कार्यकर्ताओं ने और सभी समर्थकों ने चौटाला बनकर काम किया.

आगामी हरियाणा विधानसभा चुनाव के लिए आपकी क्या रणनीति होगी?

हम आगामी हरियाणा विधानसभा चुनावों में ज्यादा से ज्यादा युवा और महिला प्रत्याशियों को चुनाव मे उतारेंगे. प्रदेश की जनता चाहती है कि हम ज्यादा से ज्यादा युवाओं को मौका दें.

क्या आप विधानसभा चुनावों में बीजेपी के साथ गठबंधन करेंगे?

चुनाव पूर्व हम किसी से भी कोई गठबंधन नहीं करेंगे. हम हरियाणा की पूरी की पूरी 90 विधानसभा सीटों पर स्वयं चुनाव लड़ेंगे और चुनाव बाद के बारे में अभी कुछ कहा नहीं जा सकता.

आप देश के सबसे युवा सांसद हैं, युवाओं के लिए क्या संदेश देना चाहेंगे?

राजनीति सेवा का माध्यम है और आपको सेवा करने के लिए 24 घंटे उपलब्ध रहना पड़ता है. आप जब चाहें छुट्टी नहीं ले सकते. जो सेवा करना चाहते हैं उन्हें राजनीति में आना चाहिए और सेवा के काम में जुट जाना चाहिए.