भाई-बहन का त्यौहार रक्षाबंधन आज, बाज़ारों में रही चहल-पहल

RSTV Bureau

RakshaBandhan2भाई-बहनों के प्रेम के प्रतीक का त्योहार रक्षाबंधन शनिवार को पूरे देश में धूम-धाम से मनाया गया. इस दिन बहनें भाइयों को तिलक लगाकर, मिठाई खिलाकर राखी इस कामना के साथ बांधती हैं कि वह जीवन भर अपनी बहन की रक्षा करेंगें.पूरे देश में इस मौके पर बाज़ारों में भी चहल पहल का माहौल बना हुआ है.

पिछले वर्षों के भांति इस बार भी रक्षाबंधन पर भद्रा लगी रही जिसके चलते बहनों को भाईयों को राखी बांधने के लिए दोपहर तक का इंतज़ार करना पड़ा.

इस बार राखी पर भद्रा का साया दोपहर 1 बजकर 52 मिनट तक रहा इसलिए राखी बांधने का शुभ समय दोपहर 1.53 बजे से शाम तक रहेगा. भद्रा पूरी होने के बाद ही बहनों ने भाईयों को राखी बांधी. यह संयोग ही है कि 2013, 2014 और अब 2015 में लगातार तीसरा साल रक्षाबंधन पर भद्रा की साया रही है.

रक्षाबंधन के मौके पर राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी देशवासियों को शुभकामनाएं दी.

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने राष्ट्र के नाम अपने बधाई संदेश में कहा, राखी का धागा भाई और बहन को प्यार और विश्वास के कभी न टूटने वाले बंधन में बांध देता है. आओ, हम सभी देश की महिलाओं, विशेष रूप से बच्चियों की भलाई में स्वयं को समर्पित करने का प्रण करें.

प्रधानमंत्री मोदी ने भी ट्वीट कर देशवासियों को रक्षाबंधन की बधाई देते हुए कहा, मैं रक्षाबंधन के पावन त्योहार पर देश के सभी नागरिकों को हार्दिक शुभकामनाएं देता हूं”.

पूरे देश में इस मौके पर बाज़ारों में चहल पहल का माहौल बना हुआ है. पूरे बाजार विभिन्न प्रकार की राखियों से पटे हुए हैं. भाइयों को भी रक्षा बंधन के दिन का इंतजार रहता है. इस दिन बहने भाइयों के कलाई पर राखी बांधकर उनके लंबे उम्र की कामना करती है.

हर वर्ष की भांति रक्षाबंधन पर इस बार भी बहनों को दिल्ली परिवहन निगम ने मुफ्त यात्रा की सौगात दी है. डीटीसी की बसों में आज रात 10 बजे तक महिलाओं से टिकट नहीं लिया जाएगा.

रक्षा बंधन के दिन महिलाएं दिल्ली परिवहन निगम (डीटीसी) की गैर-वातानुकूलित बसों एवं (नारंगी) क्लस्टर बसों में मुफ्त में यात्रा कर सकती हैं.

परिवहन मंत्री गोपाल राय ने इस निर्णय के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि डीटीसी को निर्देश दिए गए हैं कि वो 29 अगस्त को रक्षा बंधन के पर्व के अवसर पर महिलाओं को सुबह 8 बजे से रात 10 बजे के बीच बसों में मुफ्त में यात्रा सुनिश्चित कराए.

उन्होंने कहा कि यह निर्णय महिलाओं को सुरक्षित, आरामदायक एवं सुविधाजनक यात्रा उपलब्ध कराने के लिए लिया गया है. महिला यात्रियों को उस दिन राष्ट्रीय राजधानी में डीटीसी की गैर-वातानुकूलित बसों और क्लस्टर बसों में मुफ्त में यात्रा करने की अनुमति होगी.