महाराष्ट्र और हरियाणा में चुनाव प्रचार थमा

RSTV Bureau

election_voteमहाराष्ट्र और हरियाणा में 15 अक्टूबर को होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए सोमवार को चुनाव प्रचार थम गया. महाराष्ट्र की 288 सीट और हरियाणा की 90 सीटों के चुनावी नतीजे 19 अक्टूबर को आएंगे.

महाराष्ट्र में सत्ताधारी एनसीपी-कांग्रेस और मुख्य विपक्षी दल भाजपा-शिवसेना का गठबंधन टूटने के बाद से मौजूदा विधानसभा चुनाव में चारों पार्टियों के बीच कांटे का मुकाबला है. राज ठाकरे की महाराष्ट्र नव निर्माण सेना भी चुनावों में अपनी किस्मत आज़माएगी.

महाराष्ट्र की 288 विधानसभा सीटों पर 2,336 उम्मीदवारों की किस्मत 15 अक्टूबर को वोटिंग मशीन में दर्ज हो जाएगी. महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों में अलग-अलग दलों की ओर से सिर्फ़ 161 महिला उम्मीदवारों को टिकट दिया गया है.

हरियाणा का विधानसभा चुनाव भी इस बार कम रोचक नहीं है. भूपेंद्र सिंह हुड्डा के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार के सामने कड़ी चुनौती है. राज्य में भाजपा, इनेलो, हजकां, शिअद के अलावा हरियाणा जनहित पार्टी और जन चेतना पार्टी जैसे नए नाम भी इस बार चुनाव मैदान में हैं.

हरियाणा की 90 सीटों पर कुल 1,343 उम्मीदवारों की किस्मत दांव पर है. हरियाणा चुनाव में कुल उम्मीदवारों में से 115 महिला उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं.

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में कुल आठ करोड़ 25 लाख 91 हजार आठ सौ छब्बीस मतदाता, उम्मीदवारों की हार-जीत का फैसला करेंगे. वहीं हरियाणा के एक करोड़ 61 लाख 58 हजार एक सौ सत्रह मतदाता उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला करेंगे.

महाराष्ट्र में व्यवस्थित चुनाव कराने के लिए 90 हजार चार सौ तीन मतदान केंद्र बनाए गया है. वहीं हरियाणा में 16 हजार दो सौ चवालीस मतदान केंद्रों पर वोट डाले जाएंगे.

लोकसभा चुनाव में भाजपा के ऐतिहासिक जीत के बाद ये किसी राज्य में होने वाले पहले विधानसभा चुनाव हैं. ऐसे में लोकसभा चुनावों के नतीजों का इन चुनाव पर क्या असर पड़ेगा और देश में भाजपा की लहर सफल होगी या विफल, ये 19 अक्टूबर को आने वाले नतीजों के बाद ही तय होगा.