संसद का बजट सत्र शुरू, महंगाई समेत कई मुद्दों पर विरोध

RSTV Bureau

pm_modi365संसद का बजट सत्र सोमवार को शुरु हो गया. लोकसभा में इस सत्र के दौरान कल यानी मंगलवार को रेल बजट और गुरुवार को आम बजट पेश किया जाना है. चुनाव के बाद मई में बनी नई सरकार का यह पहला बजट सत्र है.

सरकार सदन में आठ जुलाई को रेल बजट, नौ जुलाई को आर्थिक सर्वेक्षण और 10 जुलाई को आम बजट पेश करेगी.

गौरतलब है करीब ढाई दशक बाद कोई पूर्ण बहुमत वाली सरकार अपना बजट पेश करेगी.

सोमवार को सत्र की शुरुआत विपक्षी दलों के विरोध प्रदर्शन से हुई. विपक्ष के सांसदों ने संसद के दोनों सदनों में कई मुद्दों पर सरकार को घेरने की कोशिश की.

लोकसभा में विपक्ष ने सदन के शुरुआत में ही प्रश्नकाल के दौरान महंगाई, पेट्रोल एवं एलपीजी के बढ़ते मुल्य और रेल किराए जैसे कई मुद्दों पर विरोध जताया.

वहीं राज्यसभा में तमाम विपक्षी दलों के नेताओं ने भी सरकार को रेलभाड़े और महंगाई के मुद्दे पर घेरा और चुनाव पूर्व लोगों से किए गए वादों को याद दिलाया. सीपीएम नेता सीताराम येचुरी ने कहा कि जो पार्टी सदन में चर्चा के बिना फैसलों का कल तक विरोध करती थी, वही पार्टी आज सत्ता में आने के बाद और रेल बजट से चंद दिनों पहले आदेश जारी करके रेलभाड़े में वृद्धि कर चुकी है, जो कि लोगों के साथ एक तरह का धोखा है.

कांग्रेस को सदन में विपक्ष का दर्जा न मिलने की हालत में इस मुद्दे पर भी सरकार को विरोध झेलना पड़ सकता है.

विपक्ष का रवैया दुर्भाग्यपूर्ण

संसदीय कार्यमंत्री वेंकैया नायडू ने विपक्ष से सदन की गरिमा बनाए रखने का आग्रह करते हुए कहा कि सरकार विपक्ष द्वारा उठए गए हर समले पर बहस करने को तैयार है.

संसद में विपक्ष का दर्जा किस पार्टी को मिलेगा, इस पर सरकार का कहना है कि यह काम लोकसभा स्पीकर का है और इस मसले पर उन्हीं का फ़ैसला सर्वमान्य होगा. नायडू ने कहा कि विपक्ष की ओर से लोकसभा अध्यक्ष पर पक्षपातपूर्ण रवैये की आशंका दुर्भाग्यपूर्ण है क्योंकि अध्यक्ष की भूमिका पद के अनुरूप और पार्टीगत राजनीति से ऊपर उठकर होती है.

गौरतलब है कि लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने अभी तक नेता विपक्ष के नाम की घोषणा नहीं की है. जानकारी के मुताबिक विपक्ष का दर्जा प्राप्त करने के लिए कम से कम 55 सांसद होने चाहिए, जो की कांग्रेस के पास नहीं है.

ऐसे क़यास लगाए जा रहे है कि संसद के दोनों सदनों को विदेशमंत्री सुषमा स्वराज इराक़ मसले पर भी संबोधित करेंगी.