सहारनपुर : काबू में हालात, कर्फ़्यू में ढील

RSTV Bureau

saharanpur_curfewसहारनपुर में ज़मीन विवाद को लेकर दो समुदायों के बीच तनाव और इसे लेकर भड़की हिंसा के बाद अब हालात नियंत्रण में हैं और स्थिति को देखते हुए प्रशासन ने कर्फ्यू में ढील दे दी है.

सोमवार को सहारनपुर शहर में पिछले तीन दिन के कर्फ़्यू के बाद चार घंटे की ढील दी गई है.

सहारनुपर के नए शहर में सोमवार को सुबह 10 बजे से दोपहर 2 बजे तक कर्फ़्यू में ढील दी गई जबकि सहारनपुर के पुराने इलाक़ो में दोपहर तीन बजे से शाम 7 बजे तक कर्फ़्यू में ढील की घोषणा प्रशासन द्वारा की गई है.

सहारनपुर की ज़िलाधिकारी संध्या तिवारी ने संवाददाताओं को बताया कि कर्फ़्यू में ढील इसलिए दी गई है ताकि लोग अपने रोज़मर्रा की ज़रुरत के सामान खरीद सकें. उन्होंने कहा कि ढील के दौरान सुरक्षाबलों को विक्रेताओं पर पैनी नज़र रखने का आदेश दिया गया है जिससे किसी भी तरह की अप्रिय घटना को टाला जा सके.

ज़िलाधिकारी ने बताया कि रविवार रात से कई लोगों ने उनसे संपर्क करके कई तरह की अफ़वाहों के बारे में अवगत कराया लेकिन 96 फ़ीसद से ज़्यादा अफ़वाहें ग़लत निकली.

उन्होंने बताया कि हिंसा की घटनाओं में अब तक कुल 22 दुकानों को क्षति पहुंची है और 15 गाडियों को जला दिया गया है.

सहारनपुर में हुई हिंसा के बाद से अब तक कुल 38 लोगों को गिरफ़्तार किया गया है. इस पूरी हिंसा में तीन लोगों की मौत हो चुकी है और तक़रीबन 34 से ज़्यादा लोग घायल हुए हैं.

गौरतलब है कि रविवार तक कर्फ़्यू में कोई ढील नहीं दी गई थी और देखते ही गोली मार देने के आदेश दिए गए थे.

सहारनपुर पुलिस अधिक्षक राजेश पाण्डे ने बताया कि दंगा भड़काने वाले व्यक्ति की शिनाख़्त कर ली गई है और हमें उम्मीद है कि उसे जल्द ही गिरफ़्तार कर लिया जाएगा.