प्रधानमंत्री ने रेडियो पर की ‘मन की बात’

RSTV Bureau
narendra_modi

File Photo

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को पहली बार ऑल इंडिया रेडियो पर ‘मन की बात’ कार्यक्रम के तहत राष्ट्र को संबोधित किया.

कार्यक्रम का प्रसारण आकाशवाणी पर सुबह 11 बजे से हुआ, जो करीब 13 मिनट तक चला, 24 भारतीय भाषाओं में भाषण का अनुवाद किया गया.

देश निर्माण में नागरिकों के सहयोग पर बल देते हुए पीएम ने कहा कि यह देश सरकार का नहीं नागरिकों का है, जहां सवा सौ करोड़ भारतीयों को अपनी शक्ति पहचाननी होगी. उन्होंने ने कहा कि हर कोई एक कदम चले अगर आप एक कदम चलोगे तो देश सवा सौ करोड़ कदम चलेगा.

प्रधानमंत्री ने देश के नागरिकों से खादी के कपड़े पहनने का आग्रह करते हुए कहा कि यदि हम खादी के कपड़े पहनते हैं तो इससे ग़रीबों का भला होगा. खादी के इस्तेमाल से देश आगे बढ़ेगा क्योंकि खादी के कपड़ों से ग़रीब का घर चलता है.

पीएम ने अपने पास आए सुझावों का ज़िक्र करते हुए बताया कि देश भर से लोग हमें जन कल्याण योजनाओं से जुड़े अनेक सुझाव भेज रहें हैं.

रेडियो को संवाद का सशक्त माध्यम बताते हुए प्रधानमंत्री ने उसकी खूबियों के बारे में बताया. पीएम ने कहा कि मैं रेडियो के मार्फ़त पूरे समाज से जुड़ना चाहता हूं क्योंकि ग़रीब से ग़रीब व्यक्ति के घर में भी रेडियो आसानी से उपलब्ध होता है.

स्वच्छ भारत अभियान पर बात करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि हमें स्वच्छ भारत अभियान पर बेहतर प्रतिक्रियाएं मिल रहीं हैं. हम सब को मिलकर देश भर से गंदगी का कंलक मिटाने का संकल्प लेना होगा.

युवाओं और गांवों को देश की ताक़त बताते हुए पीएम ने कहा कि हमारे देश की ताकत गांवों, किसानों और युवाओं में बसती है.

पीएम ने कहा कि वह रेडियो के माध्यम से नियमित तौर पर लोगों से मुखातिब होते रहेंगे. प्रधानमंत्री ने जनता से संवाद के लिए दिन भी बताया और कहा कि वह रविवार को रेडियो के जरिये लोगों तक अपनी बात रखेंगे और इसके लिए 11 बजे का समय भी निर्धारित किया है.

प्रधानमंत्री ने देशवासियों को विजयदशमी की शुभकामनाएं दी और कहा कि आज के दिन लोगों अपने अंदर की कम से कम 10 बुराइयों को खत्म करना चाहिए.