एबी बर्धन का अंतिम संस्कार आज, दर्शन के लिए उमड़े लोग

RSTV Bureau
bardhan

File photo

भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के वरिष्ठ नेता एबी बर्धन का अंतिम संस्कार आज दिल्ली के निगमबोध घाट पर किया जाएगा. एबी बर्धन का पार्थिव शरीर अंतिम दर्शन के लिए पार्टी मुख्यालय में रखा गया है. उपराष्ट्रपति मोहम्मद हामिद अंसारी उनके अंतिम दर्शन के लिए आज सुबह सीपीआई मुख्यालय पहुंचे और उन्हें श्रद्धांजलि दी.

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और सीपीएम महासचिव सीताराम येचुरी समेत विभिन्न नेताओं ने भी एबी बर्धन के निधन पर शोक जताया है. 92 साल की उम्र में उनका शनिवार रात निधन हो गया था. लंबे समय से बीमार चल रहे बर्धन दिल्ली में सीपीआई मुख्यालय में रहते थे. 7 दिसंबर को उन्हें बेचैनी महसूस होने के बाद दिल्ली के जीबी पंत अस्पताल में भर्ती कराया गया था. अस्पताल में न्यूरोलॉजी के प्रोफेसर और निदेशक डॉक्टर विनोद पुरी ने बताया कि शनिवार रात आठ बजकर 20 मिनट पर उनका निधन हुआ. उन्हें मस्तिष्क की धमनी में अवरोध के कारण मस्तिष्काघात हुआ था. एबी बर्धन के परिवार में उनका बेटा अशोक और बेटी अल्का हैं.

एबी बर्धन मजदूर संगठन आंदोलन और महाराष्ट्र में वामपंथी राजनीति का एक प्रमुख चेहरा रहे. महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में 1957 में वो निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में विजयी हुए थे. बाद में वो ऑल इंडिया ट्रेड यूनियन कांग्रेस यानी एटक के महासचिव बने जो भारत का सबसे पुराना मजदूर संगठन है. एबी बर्धन 1990 के दशक में दिल्ली आए और सीपीआई के उप महासचिव बने. उन्हें 1996 में इंद्रजीत गुप्ता की जगह पार्टी का महासचिव बनाया गया.