झारखंड और जम्मू-कश्मीर में मतगणना शुरू

SansadTV Bureau

Poll_countingझारखंड की 81 विधानसभा सीटों और जम्मू-कश्मीर की 87 सीटों पर पर वोटों की गिनती शुरू हो गई है. दोनों राज्यों के जिला मुख्यालयों में पहले पोस्टल बैलेट की गिनती होगी और फिर ईवीएम मशीनें खोली जाएंगी. चुनाव आयोग के मुताबिक पहले एक घंटे के भीतर ही रुझान मिलने शुरु हो जाएंगे.

निर्वाचन आयोग की ओर से दोनों राज्यों में मतगणना केंद्रों पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं. मतगणना की निगरानी के लिए पर्यवेक्षक और माइक्रो ऑब्जर्वर्स की तैनाती की गई है.

झारखंड को कई वर्षों से स्थिर सरकार नहीं मिली है. मौजूदा वक्त में यहां झामुमो, कांग्रेस और राजद की साझा सरकार है. इससे पहले राज्य में राष्ट्रपति शासन लागू था. वर्ष 2000 में अस्तित्व में आने के बाद से झारखंड में नौ बार मुख्यमंत्री बदले हैं जबकि दो बार यहां राष्ट्रपति शासन लागू हुआ है.

झारखंड में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के अलावा तीन पूर्व मुख्यमंत्रियों अर्जुन मुंडा, बाबूलाल मरांडी और मधु कोड़ा की किस्मत भी दांव पर है. इसके अलावा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सुखदेव भगत, एजेएसयू प्रमुख सुदेश महतो, जेडीयू के प्रदेश अध्यक्ष जलेश्वर महतो, आरजेडी के प्रदेश अध्यक्ष गिरिनाथ सिंह, तृणमूल कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष बंधु तिर्की जैसे दिग्गजों की किस्मत का फैसला आज होगा.

जम्मू-कश्मीर की कुल 87 सीटों पर इस बार 821 उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमा रहे हैं.जम्मू-कश्मीर में चुनाव आयोग ने मतगणना के लिए 28 मतगणना केंद्र बनाए हैं.

राज्य में मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला, पीडीपी नेता मुफ्ती मोहम्मद सईद, उपमुख्यमंत्री ताराचंद और भाजपा की हिना भट्ट समेत कई दिग्गजों की किस्मत दांव पर है.

लोकसभा चुनाव में मिली जीत के बाद हरियाणा और महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में भी भाजपा का विजय रथ जारी रहा. ऐसे में जहां भाजपा अपने विजय रथ को आगा बढ़ाना चाहेगी वहीं जम्मू-कश्मीर में भाजपा के लिए कमल खिलाना चुनौतीपूर्ण होगा.

मतगणना, रुझानों और नतीजों का लाइव अपडेट