जम्मू-कश्मीर में सरकार गठन के सभी विकल्प खुले: अमित शाह

SansadTV Bureau

amit_shahभाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने विधानसभ के नतीजों पर कहा कि दोनों ही राज्यों की जनता ने हमारे छह महीने के कार्यकाल पर मुहर लगाई है. उन्होंने कहा कि पार्टी झारखंड में पहली बार अकेले सरकार बनाने जा रही है और जम्मू-कश्मीर में सरकार बनाने के सभी विकल्पों पर विचार किया जाएगा. शाह ने जनादेश के लिए झारखंड और जम्मू-कश्मीर की जनता का आभार व्यक्त किया.

नतीजों में मिली सफलता के लिए अमित शाह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार जताते हुए कहा कि दोनों ही राज्यों में चुनाव प्रचार की कमान मोदी ही संभाल रहे थे, ऐसे में इस जीत में उनका योगदान सबसे अहम है.

अमित शाह ने कहा कि झारखंड का विकास पूर्ण बहुमत की सरकार ही कर सकती थी, इसी को ध्यान में रखते हुए जनता ने पहली बार किसी पार्टी को पूर्ण बहुुमत दिया है. भाजपा जनता से किए सभी वादों को पूरा करेगी.

शाह ने कहा कि पिछले चुनाव के मुकाबले भाजपा को झारखंड में 23 सीटों का फायदा हुआ है. राज्य में भाजपा को 41 सीटें मिलने जा रही है. भाजपा वोट शेयर को मामले में इस बार 24 से 31 फीसदी पर पहुंच गई है. 2009 के विधानसभा चुनाव में भाजपा को 18 सीटों पर जीत मिली थी.

जम्मू-कश्मीर के चुनावी नतीजों पर शाह ने कहा कि अब राज्य में भाजपा एक मजबूत भूमिका में उभरी है. उन्होंने कहा कि राज्य में भाजपा का वोट शेयर पीडीपी से भी ज्यादा है. राज्य में पीडीपी सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभरी है.

भाजपा अध्यक्ष ने बताया कि राज्य में भाजपा को 23.4 फीसदी वोट मिले जबकि पीडीपी को 22 फीसदी के करीब वोट मिले है. उन्होंने कहा कि पिछले चुनावों के मुकाबले पार्टी को इस बार 15 सीटों के फायदे का अनुमान है.

हरियाणा और महाराष्ट्र के नतीजों का हवाला देते हुए भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि कॉंग्रेंस मुक्त भारत का अभियान आगे बढ़ रहा है और हमें इसके और सफल होने की उम्मीद है. शाह ने कहा मौजूदा नतीजों में भी दोनों राज्यों में कॉंग्रेस तीसरे और चौथे स्थान पर रही है.

विपक्षी दलों पर हमला बोलते हुए अमित शाह ने कहा कि झारखंड में जनता परिवार के नाम पर एक हो रहीं पार्टियों को राज्य की जनता ने नकार दिया है. चुनाव नतीजों पर शाह ने दोनों राज्यों के कार्यकर्ताओं का भी आभार जताया.