वड़ोदरा और मैनपुरी में 13 सितंबर को उपचुनाव

RSTV Bureau

narendra-modiचुनाव आयोग ने शनिवार को जानकारी दी कि वड़ोदरा और मैनपुरी लोकसभा सीट पर 13 सितंबर को उपचुनाव कराया जाएगा. लोकसभा चुनाव में जीत के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वड़ोदरा जबकि समाजवादी पार्टी के मुखिया मुलायम सिंह यादव ने मैनपुरी सीट से लोकसभा चुनाव जीतने के बाद अपनी सीट छोड़ दी थी.

दरअसल नरेंद्र मोदी ने वाराणसी और वड़ोदरा से लोकसभा चुनाव लड़ा था और दोनों ही सीटों से मोदी को बड़े अंतर से जीत हासिल हुई थी. ऐसे में नियमानुसार कोई भी सांसद किसी एक सीट से ही लोकसभा सदस्य रह सकता है. इसी नियम के तहत नरेंद्र मोदी ने वड़ोदरा सीट छोड़कर वाराणसी से संसद सदस्यता ग्रहण की थी.

सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव ने भी अपने गृहनगर मैनपुरी और आजमगढ़ से लोकसभा चुनाव लड़ा था और दोनों सीटों से चुनाव जीतने के बाद मुलायम ने मैनपुरी सीट से त्यागपत्र दिया था. मुलायम ने आजमगढ़ से भाजपा सांसद रमाकांत यादव को शिकस्त दी.

मेदक लोकसभा सीट पर भी 13 सितंबर को उपचुनाव कराया जाना है. मेदक सीट से तेलंगाना राष्ट्र समिति के प्रमुख के चंद्रशेखर राव ने लोकसभा चुनाव जीता था. तेलंगाना के गठन के बाद चंद्रशेखर राव को तेलंगाना का पहला मुख्यमंत्री बनाया गया है और उन्हें मेदक लोकसभा सीट से इस्तीफा देना पड़ा, जिसके चलते मेदक सीट रिक्त हो गई है.

चुनाव आयोग की ओर से 33 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव कराए जाने की भी घोषणा की गई है. असम, आंध्र प्रदेश, सिक्किम, राजस्थान, छत्तीसगढ़ और उत्तरप्रदेश की कुछ सीटें अलग-अलग कारणों से खाली हो गई थीं.

चुनाव कार्यक्रम के मुताबिक उपचुनाव के नतीजे 16 सितंबर को आएंगे.

आयोग ने महाराष्ट्र की बीड लोकसभा सीट पर उपचुनाव कराने का कोई कार्यक्रम तय नहीं किया है. बीड से सांसद गोपीनाथ मुंडे की पिछले दिनों दिल्ली में एक सड़क हादसे में मौत हो गई थी, जिसके बाद से बीड लोकसभा सीट अभी खाली बनी हुई है.