पाकिस्तानी खिलाड़ियों को अभद्र बर्ताव की सज़ा, 2 खिलाड़ी निलंबित

RSTV Bureau

Pak_hockeyभारतीय हॉकी महासंघ के कड़े रुख के बाद विश्व हॉकी महासंघ ने चैंपियंस ट्रॉफी में अभद्र बर्ताव करने के दोषी दो पाकिस्तानी खिलाड़ियों को एक-एक मैच के लिए निलंबित कर दिया है.

पाक टीम के अमजद अली और मोहम्मद तौशिक अहमद अली को एक मैच के लिए निलंबित किया गया है, ये दोनों खिलाड़ी जर्मनी के खिलाफ होने वाले फाइनल मुकाबले में हिस्सा नहीं ले पाएंगे. पाक टीम के शफ़क़त रसूल को भी इस मामले में दोषी पाया गया लेकिन जांच कमेटी ने रसूल को चेतावनी देकर छोड़ दिया.

हॉकी चैंपियंस ट्रॉफी में पाकिस्तानी खिलाड़ियों के अभद्र व्यवहार से नाराज भारतीय हॉकी महासंघ ने भारत में विश्व हॉकी महासंघ के किसी भी आयोजन की मेजबानी से इनकार कर दिया था.

हॉकी इंडिया ने विश्व हॉकी संघ से पाक खिलाड़ियों के खिलाफ कड़े कदम उठाने की मांग की है. हॉकी इंडिया इस मामले में विश्व हॉकी महासंघ के धीले रव्वयै से नाराज था.

भारत और पाकिस्तान के बीच शनिवार को चैंपियंस ट्रॉफी का सेमीफाइनल मुकाबला खेला गया था. मैच में पाकिस्तान ने भारत को 4-3 से शिकस्त दी  जिसके बाद पाक खिलाड़ियों ने मैदान पर दर्शकों और मीडिया की ओर गलत इशारे और खराब बर्ताव किया था.

पाकिस्तान टीम के कोच शाहनवाज शेख की ओर से इस मामले में पहले ही माफी मांगी जा चुकी है.

हॉकी इंडिया के अध्यक्ष नरिंदर बत्रा ने इस पूरे मामले को शर्मनाक और निंदनीय बताया है. बत्रा ने कहा कि विश्व हॉकी ने इस मामले में कमजोर कदम उठाया जो हमें स्वीकार नहीं है.

बत्रा ने विश्व हॉकी से पाकिस्तानी खिलाड़ियों के खिलाफ कड़े कदम उठाने की मांग करते हुए कहा कि भारत मार्च में प्रस्तावित महिलाओं की वर्ल्ड लीग राउंड थ्री के बाद विश्व हॉकी के किसी भी आयोजन की मेजबानी नहीं करेगा. हॉकी इंडिया के इस कदम के बाद वर्ष 2018 में भारत में होने वाले पुरुष हॉकी विश्व कप के आयोजन पर भी संशय बन गया है.

दरअयल ये पूरा मामला शनिवार के हुए भारत-पाक हॉकी के सेमीफाइनल मुकाबले का है. भारत पर 4-3 से जीत करने के बाद पाक खिलाड़िनों ने जीत का जश्न में मनाते हुए मैदान पर अभद्र व्यवहार करना शुरू कर दिया.

खिलाड़ियों ने मैदान पर मौजूद दर्शकों और मीडिया की ओर अभद्र इशारे किए. महौल बिगड़ते देख पाकिस्तानी कोच शाहनवाज अपने खिलाड़ियों को मैदान से बाहर ले गए. पाक कोच ने टूर्नामेंट डायरेक्टर से पूरे मामले पर मांफी मांगी और दोबारा खिलाड़ियों की ओर से इस तरह की हरकत न दोहराए जाने का भरोसा भी दिलाया था.