संयुक्त राष्ट्र में फिर गूंजेगी हिन्दी

RSTV Bureau

rajnath_singhप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी संयुक्त राष्ट्र महासभा को हिन्दी में संबोधित करेंगे. हिन्दी दिवस पर आयोजित एक कार्यक्रम में केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ये जानकारी दी. रविवार को हिन्दी दिवस के मौके पर देश भर में हिन्दी को बढ़ावा देने के लिए कार्यक्रमों का आयोजन किया गया.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आगामी 27 सितंबर को न्यूयार्क में संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित कर सकते हैं.

राष्ट्रपति भवन में आयोजित एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने आए गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी संयुक्त राष्ट्र महासभा को हिन्दी में संबोधित करने वाले देश के पहले प्रधानमंत्री थे.

केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने इस मौके पर कहा कि देश की 55 फीसदी आबादी हिन्दी बोलती है. देश में 85-90 प्रतिशत लोग ऐसे से जो हिन्दी समझते हैं जिनमें से बहुत से लोग ऐसे भी हैं जिनकी मातृभाषा हिन्दी नहीं है.

राजनाथ सिंह ने कहा कि देश भर में हिन्दी आम बोलचाल की भाषा है. संस्कृत सभी भारतीय भाषाओं की मां जबकि हिन्दी समेत सभी भाषाएं आपस में बहनें हैं.

राष्ट्रपति भवन में आयोजित कार्यक्रम में राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने देशवासियों से हिन्दी का प्रचार-प्रसार करने की अपील की है. राष्ट्रपति ने कहा कि हिन्दी देश की आधिकारिक भाषा है और हमें हिन्दी को बढ़ावा देने की जरूरत है.

हिन्दी दिवस के मौके पर सभी केंद्रीय मंत्रालयों और विभागों की हिन्दी वेबसाइट शुरु किए जाने पर हर्ष जताते हुए राष्ट्रपति ने कहा कि सरकारी कार्यों के लिए हिन्दी में किया गया अनुवाद सरल और साफ शब्दों में होना चाहिए ताकि आम जनता ठीक तरह से उसे समझ सके.

देश भर में हर साल 14 सितंबर को हिन्दी दिवस के रूप में मनाया जाता है. आज के दिन साल 1949 में संविधान सभा ने हिन्दी को राजभाषा के रूप में मान्यता दी थी.