गाँधी जी और शाकाहार

Sandeep Yash
आज 2 अक्टूबर को देश महात्मा गाँधी की 151वीं जयंती मना रहा है। गांधी जी ने अपने अहिंसा के संदेश से दुनिया को जीता था।  इनका मानना था कि इंसान को

Continue Reading

राष्ट्रीयता और सामाजिक चेतना के कवि: रामधारी सिंह दिनकर

Ritu Kumar
   “सुनुँ क्या सिंधु मैं गर्जन तुम्हारा, स्वयं युग-धर्म का हुंकार हूँ मैं        कठिन निर्घोष हूँ भीषण अशनि का, प्रलय गांडीव का टंकार हूँ मैं।“

Continue Reading

परतों में भारत की सॉफ्ट पावर

Sandeep Yash
  नमस्कार, लेखों की इस शृंखला को हमने स्वतंत्रता की 74 वीं सालगिरह के साथ पिरोया है। मक़सद रहा कुछ चुनींदा विषयों के चश्मे से देश के विकास को

Continue Reading